Skip to main content

Posts

Showing posts from January, 2017

सभी का सपना मेरा सपना है- डोनाल्ड ट्रम्प

अमेरिका के नए 45वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ले लिया है। इस अवसर पर लाखों उपस्थित जनता को संबोधित करते हुए अमेरिका फर्स्ट का नारा देते हुए कहा क़ि ये सत्ता मेरी नहीं जनता की है।मुश्किलओं में लड़ना सीखा है।देश में अभी बदलाव लाना है।हमारा राष्ट्र एक है सब मिलकर आगे बढ़ेंगे।कई दशकों तक उन्नति रुकी है इंफ्रास्ट्रक्चर रुक हुआ है अनेक देशों को अमीर बनाया और हम पिछड़ते गए। अब हमभविष्य को देखेंगे। आज हमारी आवाज हर घर में सुनी जाए। यही हमारा दृष्टिकोण हो। हम अमेरिका के लिए सोचेंगे और अमेरिका को अपना उत्पादन और देश निर्माण करेंगे। इस्मालिक आतंकवाद समाप्त करेंगे। अब खाली बात करने का नहीं काम करने समय है। कुरीतियों को समाप्त कर अच्छे काम करें इसी में गर्व की बात होगी।सभी के सपने हमारे सपने हैं। हम सभी मिलकर अमेरिका को गौरवशाली सशक्त ,सुरक्षित व महान बना सकते हैं।

दल.बदलुओं को समायोजित करना भाजपा के लिए नहीं होगा आसान

नीरज सिंह------- प्रदेश में आचार संहिता लगते ही राजनीतिक व प्रशासनिक हलचल तेज हो गई है। जहां प्रशासन एक तरफ बैनर होल्डिंग,पोस्टर आदि उतरवाने से लेकर चुनाव तैयारियों में जुट गया है। वहीं दूसरी तरफ राजनीतिक दलों ने भी अपनी अपनी तैयारियां जोरों पर शुरू कर दिया है। बहुजन समाज पार्टी ने प्रदेश की विधानसभा सीटों पर अपने प्रत्याशी घोषित करके अन्य दलों से इस मामले में बाजी मार ली है। इस पार्टी का इतिहास रहा है कि पर्चा दाखिल होते होते घोषित प्रत्याशी बदल जाता है।फिलहाल अभी तो ये सभी चुनाव लड भी रहे हैं। अन्य दल में कांग्रेस ने अपने पत्ते नही खोले हैं, वहीं समाजवादी पार्टी का अभी तय ही नही हो पा रहा है कि चुनाव अखिलेश यादव के नेतृत्व में होगा या फिर मुलायम सिंह की अगुआई में तय ही नहीं हो पा रहा है। जिससे इसके नेता व टिकट के दावेदार दोनों ही कन्फ्यूज हो रहे हैं। सपा की उठा पटक से लग रहा है कि पार्टी का दोनों धडा चुनाव अलग अलग लड सकते हैं। आज भी कोई नतीजा निकलता नहीं दिख रहा है हां इतना जरूर है कि इस परिवारिक घमासान में अखिलेश पार्टी के सर्बमान्य नेता बनकर उभरें हैं वही मुलायम सिंह पार्टी के …